Let Noble Thoughts come to us from all sides, News too..

Archive for the ‘status’ Category

RSS helps tribals http sanghparivar org vanavasi seva…

In status on October 8, 2011 at 9:09 am

RSS helps tribals..
http://sanghparivar.org/vanavasi-seva-kendram-tamilnadu%E2%80%99s-single-teacher-school?utm_source=twitterfeed&utm_medium=twitter

Advertisements

crazy levels http ahafoundation visibli com share p6fcqr

In status on October 3, 2011 at 7:35 pm

crazy levels..
http://ahafoundation.visibli.com/share/p6fcqr

Vote Yes on this Times survey on Dr…

In status on October 3, 2011 at 7:25 pm

Vote Yes on this Times survey on Dr Swamy & Sicko CONs targeting him http://bit.ly/ay1TOc || Caveat: Bennet & Coleman might rig the survey

I was told 2 police stations refused to…

In status on October 3, 2011 at 1:22 pm

I was told 2 police stations refused to register case against me, obviously Chidambaram has pressured the crime branch: SWAMY

News article on this http://twocircles.net/2011jul29/delhi_police_refuses_register_fir_against_swamy.html

Delhi police has refused to register FIR against Janata Party president Subramanian Swamy for his inflammatory article in which he incited hatred and violence against Muslims. Shehzad Poonawala, a student of Pune’s Indian Law School but now residing in Delhi, approached the Defence Colony police to file FIR against Swamy but the police using their discretionary powers just filed a complaint.

Swamy wrote an article titled “Analysis: How to wipe out Islamic terror” in the DNA, a Mumbai-based English daily on July 16, in which he advocated among other things, denying voting rights to Muslims if “they don’t acknowledge with pride that their ancestors were Hindus.”

Shehzad, a student of Indian Law School, alleges that in the concerned article, Swamy “intentionally promoted, by written words, enmity on the grounds of religion and disharmony, hatred and ill will between different communities namely Hindus and Muslims which is in contravention of Section 153A(1) (b) and 153B(1) (c) of the Indian Penal code, 1860.”

Shehzad, who on July 17, went to the Defence Colony Police Station in South Delhi, said that the police was “duty bound to register an FIR” in the case as it was a case of cognizable offense. But Inspector Ishwar Singh at the police station, who received his representation, was “extremely adamant about not filing the FIR” citing discretionary powers of the police to conduct a preliminary enquiry before filing an FIR even in cases of cognizable offence. He couldn’t get his FIR registered even when he approached Commissioner of Police, Delhi.

Shehzad approached the Police Commissioner on 19 July but full nine days later he got a response from Commissioner’s office saying his complaint “has been referred to the Joint Commissioner of Police/Southern Range for further necessary action.”

In his article Swamy alleges that the terror attacks are done by Muslims in order to scare the “Hindu psyche and create the fear of civil war.” He appeals to all the Hindus of the country to unite against radical Muslims and asks them to take inspiration from Jews. “Fanatic Muslims consider Hindu-dominated India “an unfinished chapter of Islamic conquests,” says Swamy wants to “propagate the development of a Hindu mindset.”

Shehzad Poonawala has now submitted his complaint to the National Commission for Minorities (NCM). The NCM has taken his complaint into consideration and all the members of NCM have read Swamy’s article. The NCM chief Wajahat Habibullah has told a TV news channel this afternoon that the commission will take a decision on the issue on coming Tuesday.

In his complaint to Wajahat Habibullah, the chairperson, NCM, Shehzad has said that, Swamy and people like him “who are in the business of fuelling such divisive agendas, shouldn’t be allowed to manipulate emotions and undermine democracies for shallow political gains.

Shehzad requested the NCM to deal with Swamy in accordance with the law.

Breaking News Uttarakhand CM Khandhuri reached riot hit…

In status on October 3, 2011 at 8:18 am

Breaking News : Uttarakhand CM Khandhuri reached riot hit rudrapur..!

वॉशिंगटन आतंकवादियों के खिलाफ कार्रवाई को लेकर बढ़ते…

In status on October 1, 2011 at 12:38 pm

वॉशिंगटन. आतंकवादियों के खिलाफ कार्रवाई को लेकर बढ़ते दबाव के बीच अमेरिका ने एक बार फिर पाकिस्‍तान को चेतावनी दी है। अमेरिका ने इस बार अपने लोगों के खिलाफ होने वाले आतंकवादी हमलों के बारे में नहीं बल्कि उसने भारत के खिलाफ होने वाले हमलों को लेकर पाकिस्‍तान को चेताया है। अमेरिका का कहना है कि पाकिस्‍तान भारत के खिलाफ आतंकवादियों को मदद करके भारी गलती कर रहा है। अमेरिकी विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन ने पाकिस्‍तान को सावधान करते हुए आतंकवादियों की तुलना ‘जंगली जानवर’ से की है।

क्लिंटन ने कहा कि पाकिस्तान ने कश्मीर में भारत के खिलाफ आतंकी गुटों का इस्तेमाल किया है और वह ऐसा करके ‘एक गंभीर, दुखदाई और रणनीतिक गलती’ कर रहा है। उन्‍होंने कहा कि पाकिस्तान को लगता है कि वह जंगली जानवरों को अपनी छत्रछाया में रख कर उन्‍हों पड़ोसी पर हमले के लिए छोड़ सकता है।

अमेरिकी विदेश मंत्री ने कहा कि पाकिस्तान के लोग सुरक्षा के बेहद खराब माहौल से निकलने की कोशिश कर रहे हैं। उन्‍होंने कहा, ‘मैं अपने आप को और अपने सहयोगियों को उसके बारे में याद दिलाना चाहती हूं क्योंकि आतंकवाद के खात्मे की कोशिश में पाकिस्‍तान का बहुत बड़ा हित है, लेकिन उनके आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई से भारत के साथ संबंध, अमेरिका और गठबंधन सैनिकों की वापसी के बाद अफगानिस्तान को लेकर और उससे बाहर के क्षेत्र में चिंता है। आशंका है कि स्थिति और बिगड़ सकती है।’

क्लिंटन ने कहा कि अमेरिका हर स्तर पर इस बात पर जोर दे रहा है कि पाकिस्‍तान से मधुर रिश्‍ते बने रहे और रणनीतिक मकसद को हासिल करने के लिए प्रभावी ढंग से कोशिश की जाए। यह मकसद है पाकिस्तान से संचालित होने वाले हमलों को रोकना। उन्‍होंने कहा कि अमेरिका आंतरिक खतरों से जूझ रहे पाकिस्तान में स्थिरता लाने में मदद करने और अफगानिस्तान को सक्षम बनाने की कोशिश में है, जिससे वह अपने भविष्य पर नियंत्रण रख सके।

एक सवाल के जवाब में क्लिंटन ने कहा कि पाकिस्‍तान ने पहले आतंकी समूहों का इस्तेमाल कश्मीर को लेकर भारत के साथ चल रहे विवाद के लिए भी किया। उन्‍होंने कहा, ‘जब मैं विदेश मंत्री बनी, तो वे पाकिस्तानी तालिबान को मनाने की कोशिश कर रहे थे जो कि अब उनपर ही हमला कर रहे हैं। इस प्रकार से वे अच्छे आतंकी और बुरे आतंकी के बीच अंतर करने की कोशिश कर रहे हैं, क्‍योंकि हमलोगों ने मिलकर अच्छे आतंकियों को धन उपलब्ध करवाया था।’

अमेरिका पर आरोप लगते रहे हैं कि उसने रूस के अफगानिस्तान में लड़ने के दौरान आतंकी समूहों की मदद की थी। इस बारे में क्लिंटन ने कहा, ‘जब मैं पाकिस्तान के अधिकारियों से मिली, तो उन्होंने सही कहा कि आप वहीं है जिन्होंने एक समय हमलोगों को इन गुटों की मदद करने को कहा, धन मुहैया करवाया, इन्हें ताकतवर बनाया और इनका इस्तेमाल सोवियत संघ को अफगानिस्तान से निकाल बाहर करने के लिए किया। लेकिन अब हम इस स्थिति में है जिससे खुद को बाहर निकालना बेहद जटिल और कठिन है।’

http://www.bhaskar.com/article/INT-pak-making-error-by-supporting-terror-groups-2472099.html?HT3=